Home Health एानें एसिडिटी, यीठ या गर्दन में दर्द होने पर किस पोजिशन में...

एानें एसिडिटी, यीठ या गर्दन में दर्द होने पर किस पोजिशन में सोना ा

45


Sleeping Position: अच्छी सेहत के लिए बेहतर नींद लेना सबसे पहला और जरूरी फैक्टर है. ईार ये देखने में आया है कि लोग किसी ना किसी वजह स इसके पीछे उनके उान-पान और फिजिकल एक्टिविटी कम होने के अलावा एक वजह र हो सकती है औ दैनिक भास्कर अखबार ने अपनी न्यूज रिपोर्ट में लिखा है कि 57% लोग करवट के बल सोते हैं. 17% लोग पीठ के बल सोते हैं. 11% लोग ऐसे हैं जो पेट के बल सोते हैं और 15% ऐसे लोग हैं जिनकी सोने की स्थिति बदलती रहती है. यानी अलग-अलग तरीके से सोना भी एक वजह हो सकती है. इसके अलावा भी कुछ कारण है जिनकी वजह से लोगों ो का न ,से, यीठ या गर्दन का दर्द, खर्राटे या फिर पेट में एसिड बनना. सामान्य रूप से होने वाली ऐसी समस्याओं को साइंटिफिक तरीकों से दूर किया जा सकता है.

खर्राटे आएं तो क्या करें?
सोते समय खर्राटे आएं तो साइड या पेट के बल सो जाएं और समय सिर को कुछ इंच पस पोजिशन में सोने से जीभ और टिशू (कोशिकाएं) गले मे ं मले में चिपकी जीभ सांस को रोकती है, इसी से खर्राटे आते हैं.

यह भी पढ़ें-
हफ्ते में सिर्फ 75 मिनट तेज चलने से कम हो सकता है डिप्रेशन का खतरा – स्टडी

गर्दन दर्द
गर्दन में दर्द होने पर पूरी रात बेचैनी में गुजरानी पड़ती है. ऐसे में पेट के बल सोने से बचें. हो सके तो गर्दन के नीचे एक से ज्यादा तकिया ना लगाएं. ्यान रहे कि तकिए की ऊंचाई कंधे के ऊपर तक हो. ईार तौलिए को रोल करके लगाने से भी गर्दन के दर्द में राहत मिलती है.

पीठ दर्द हो
रात को पीठ का दर्द भी नींद में परेशानी की अहम वजह बन जाता है. ऐसे में पीठ के बल लेट जाएं. घुटनों के नीचे तकिया रख लें. इससे रीढ़ का नेचुरल कर्व बना रहता है. की का स्ट्रेस घटता है. ऐसे में और ज्यादा आराम ेराम के लिए कमर के नीचे तौलिए

एसिडिटी में क्या करें
ईार कुछ गलत खा लेने से होने वाली एसिडिटी हमें रात भर सोने नहीं देती. मसे में सोते समय सिर के नीचे ऊंचे तकिया का इस्तेमाल करें. यदि इससे दिक्कत होती है तो बेड के नीचे कोई सहारा लगाकर सिरहाने को ऊंचा कर लें और करवट के बल सोएं.

यह भी पढ़ें-
भीगी हुई किशमिश या ताजे अंगूर? एक्सपर्ट से जानें हेल्थ के लिए क्या है बेस्ट

कंधे में दर्द
ंधर कंधे का दर्द पूरी रात आपको सोने नहीं देता है, तो ऐसे में पीठ के ल सोएं. यदि करवट लेकर सो रहे हैं, तो छाती की ऊंचाई के बराबर तकिया रखकर दर्द वाले कंधे को उस रप लें. तकिए पर किसी व्यक्ति को गले लगाने जैसा दवाब डालें.

पैरों में ऐंठन होने पर
अगर रात को पैरों की ऐंठन आपको सोने नहीं देती है तो सोने से प हल्का स्ट्रेच करें. भिर भी अगर दर्द बना रहे तो हीटिंग पैड का यूज कर सकते हैं. इससे फायदा मिलेगा, ऐंठन दूर होगी.

Tags: Health, Lifestyle



Source link